20 फ़र॰ 2017

loading...

अश्वगंधा घोड़े जैसी ताकत देने वाला


अश्वगंधा घोड़े जैसी ताकत देने वाला

अश्वगंधा को आयुर्वेद मे ब्रह्म औषधि कहां जाता है । ब्रम्ह औषधि है वह होती है जो शरीर में सात धातुओं को बढ़ाकर शरीर को तंदरुस्त बनाती है । इन ब्रहम अशुद्धियों के सेवन से रस धातु का संचार शरीर के रोम रोम तक पहुंच कर उनमें एक नई ऊर्जा भर देता है।

अश्वगंधा जहां सरीर को तो तंदरुस्त रखती ही है वही वह हमारी संभोग शक्ति को भी बढ़ाने में महत्वपूर्ण योगदान देती है ।

मात्रा :- अश्वगंधा चूर्ण 3 से 5 ग्राम गर्म दूध के साथ सेवन करना चाहिए।

गुण :- 
1.शरीरिक कमजोरी को दूर करती है।
2. मानसिक रोगों में भी बहुत अच्छे प्रणाम मिलते हैं।
3. बुढ़ापे को दूर करती है।
4. संभोग शक्ति को बहुत बढ़ा देती है।
5. वायु रोग और नाड़ी तंत्र के रोगों में भी बहुत अच्छा प्रणाम मिलते हैं।

गर्म प्रकृति के लोग इसका इस्तेमाल ना करें या फिर किसी अच्छे आयुर्वेदिक वेद्य की निगरानी में इस्तेमाल करें।

कुछ घरेलू प्रयोग :-
1. अश्वगंधा ,विदारीकंद ,इसबगोल का छिलका और मिश्री सभी को बराबर मात्रा में मिला ले उसके बाद किसी अच्छी कांच की शीशी में भरकर रख लें ।सुबह शाम 3-3 ग्राम गर्म दूध के साथ सेवन करने से एकदम सूखा हुआ शरीर भी हृष्ट पुष्ट और तंदुरुस्त हो जाता है।

2. असगंध ,शतावर और विधारा सभी को बराबर मात्रा में मिक्स कर कर शीशी में भर लें ।सुबह शाम 3- 3 ग्राम गरम दूध के साथ सेवन करने से सुपनदोष ,धातु गिरना आदि रोगों में बहुत अच्छा रिजल्ट मिलता है।

3. असगंध ,ताल मखाना और सफेद मूसली इन सभी को बराबर मात्रा में मिक्स कर लें सुबह शाम 3-3 गाराम दूध के साथ सेवन करने से शीघ्रपतन में बहुत अच्छा लाभ मिलता है।

4. अश्वगंधा चूर्ण 3-3gm गरम दूध के साथ सेवन करें  ।इससे नींद ना आने की बीमारी में बहुत अच्छा लाभ मिलता है।

जो लोग gym जाते हैं वह लोग अपनी बॉडी बिल्ड करने और मसल्स बनाने के लिए तरह तरह के प्रोडक्ट   ,प्रोटीन पाउडर इत्यादि का इस्तेमाल करते हैं । जिनका शरीर पर बहुत ही दुष्ट परिणाम आता है। तो उन प्रोडक्ट की बजाए अगर हम अश्वगंधा से बने इस योग का इस्तेमाल करें तो बिना किसी साइड इफेक्ट के अपने मसल्स को बड़े अच्छे से बिल्ड कर सकते हैं। 

योग कुछ इस तरह से हैं : -

अश्वगंधा पाउडर             100gm
कौंच बीज पाउडर              25gm
सफेद मूसली पाउडर           25gm
शतावर पाउडर                   25gm
गिलोय पाउडर                    25gm
लोह भसम 100 पुट्ठी           10gm
सिद्ध मकरध्वज                    5gm

ऊपर लिखी हुई सभी दवाइयों को अच्छे से मिक्स कर लें मिक्स करने के बाद किसी अच्छी एयरटाइट शीशी में भरकर रख लें ।

मात्रा :- 3-3gm सुबह और शाम को गाय की घी में मिलाकर खा ले ऊपर से एक गिलास गरम दूध का सेवन करें।

इसके सेवन करने से कुछ ही दिनों में आपको अपने शरीर में घोड़े जैसी ताकत एहसास होने लगेगा और आपकी संभोग शक्ति बहुत बढ़ जाएगी।

अश्वगंधा को भी बहुत ही शुभ माना जाता है । इसे घर में लगाने से समस्त वास्तु दोष समाप्त हो जाते हैं ।अश्वगंधा का पौधा जीवन में शुभता को बढ़ाकर जीवन को और भी अधिक सक्रिय बनाता है। यह एक अत्यन्त लोकप्रिय आयुर्वेदिक औषधि है।
loading...
loading...